IIT Full Form, IIT Course Details-कोर्स ड्यूरेशन, फीस, योग्यता पूरी जानकारी हिंदी में

IIT Course Details आप लोगों ने आईआईटी कोर्स के विषय में जरूर सुना होगा यदि आपकी पढ़ाई साइंस स्ट्रीम से चल रहा है तो यह कोर्स स्पेशल आप लोगों के लिए ही है हालांकि कुछ अभ्यर्थी जानकारी के अभाव में आईआईटी जैसे इंस्टीट्यूट में दाखिले के मौके से वंचित रह जाते हैं तो दोस्तों आज इस आर्टिकल के माध्यम से IIT Full Form, IIT Course Details – कोर्स ड्यूरेशन, फीस, योग्यता पूरी जानकारी हिंदी में साझा करेंगे अंत तक जरूर पढ़ें ।

IIT Full Form, IIT Course Details-कोर्स ड्यूरेशन, फीस, योग्यता पूरी जानकारी हिंदी में
IIT Full Form,

ये भी पढ़ें :- MBA Course Details In Hindi

IIT Full Form ( आईआईटी का फुल फॉर्म)

IIT FULL FORM : (IIT full form in English Indian Institute of Technology) (इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी) है तथा हिंदी में आईआईटी का फुल फॉर्म (IIT Full Form In Hindi )भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान होता है ।

भारत में तकनीकी शिक्षा को विकसित करने के लिए सर्वप्रथम 1951 ईस्वी में खड़कपुर में आईआईटी कॉलेज की स्थापना की गई थी

भारत में इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए सर्व सर्वश्रेष्ठ भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान यानी कि आईआईटी माना जाता है विश्व स्तर पर बात करें तो आईआईटी के क्षेत्र में भारतीय आईआईटी कॉलेज का महत्वपूर्ण स्थान हैं ।

IIT में एडमिशन के लिए योग्यताएं

  • आईआईटी इंजीनियरिंग के लिए अभ्यर्थी 12वीं कक्षा साइंस वर्ग से उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • अभ्यर्थी का 12वीं कक्षा में कम से कम 75% अंक के साथ पास होना चाहिए। 
  • हालांकि कॉलेज में कुछ सीटों के लिए आरक्षण प्रदान किया जाता है इसके अंतर्गत वह छात्र जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं जनरल केटेगरी से बिलॉन्ग करते हैं।
  • ओबीसी और एससी एसटी आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को 65% अंकों के साथ उत्तीर्ण होने पर संभावना बढ़ जाती है
  • बीई बीटेक कोर्स के लिए फिजिक्स और मैथमेटिक्स सब्जेक्ट होना चाहिए इसके साथ ही टेक्निकल वोकेशनल सब्जेक्ट केमिस्ट्री, बायोलॉजी में से एक होना चाहिए
  • बी आर्क, बी प्लान कोर्स के लिए मैथमेटिक्स सब्जेक्टिव होना अनिवार्य है
  • 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद बेसिक एलिजिबिलिटी आईआईटी संस्थान में एडमिशन के लिए आप एंट्रेंस एग्जाम के लिए एलिजिबल होते हैं और एंट्रेंस एग्जाम के हिस्सा ले सकते हैं

आईआईटी संस्थान में एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम

  • IIT कॉलेज में प्रवेश के लिए दो महत्वपूर्ण परीक्षाओं का आयोजन कराया जाता है।
  • जब अभ्यर्थी मेन एग्जाम और एडवांस एग्जाम दोनों पास करते हैं उन्हीं अभ्यर्थियों को बीटेक इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन मिलता है। 

जेईई मेन परीक्षा पाठ्यक्रम (JEE MAIN EXAM)

  • जेईई मेंस पेपर-1 इंटरमीडिएट पाठ्य क्रम होता है जैसे- रसायन विज्ञान, भौतिक विज्ञान और गणित के विषयों के बहुविकल्पीय टाइप के प्रश्न पूछे जाते हैं
  • इसके लिए अभ्यर्थी को 3 घंटे का समय दिया जाता है परीक्षा में प्रश्न पत्र हिंदी अथवा अंग्रेजी माध्यम जो आपको उचित लगे
  • आवेदन करते समय विकल्प का चुनाव कर सकते हैं प्रत्येक प्रश्न के लिए ऋणात्मक मूल्यांकन किया जाता है
  • एक गलत उत्तर देने पर 25% मार्क्स काट लिया जाता है फिजिक्स केमिस्ट्री और मैथ इन तीन सब्जेक्टों के टोटल 75 प्रश्न सम्मिलित होते हैं।

जेईई मेस परीक्षा पेपर-2 (JEE MAIN EXAM PAPER -2 )

  • जेईई मेंस परीक्षा पेपर सेकंड में गणित,  एप्टीट्यूड और ड्राइंग अभिलेख से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं
  • इसके लिए अभ्यर्थी को 3 घंटे का समय दिया जाता है पेपर फर्स्ट के समतुल्य सेकंड पेपर में भी ऋणात्मक मूल्यांकन किया जाता है
  • कुछ प्रश्नों की संख्या 77 होती है तथा कुल 400 अंक निर्धारित होते हैं महत्वपूर्ण तीन विषय सम्मिलित होते हैं एप्टीट्यूड गणित और ड्राइंग-

जेईई एडवांस्ड परीक्षा ( JEE Advanced Exam)

  • JEE एडवांस परीक्षा में भी दो पेपर निर्धारित होते हैं इसके लिए छात्रों को तीन-तीन घंटे का समय दिया जाता है।
  • प्रत्येक प्रश्न प्रत्येक प्रश्न पत्र में तीन अलग-अलग सब्जेक्टिव पार्ट्स को डिवाइड कर दिया जाता है
  • पेपर फर्स्ट में फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स होंते हैं 
  • पेपर-1में वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न होते हैं जिनका ऋणात्मक मूल्यांकन किया जाता है
  • JEE एडवांस्ड में दूसरे प्रश्न पत्र में पेपर फर्स्ट के समतुल्य ही समय और पाठ्यक्रम का निर्धारण किया जाता है
  • JEE Advanced Exam के प्रश्न पत्र 2nd में OMR Based exam होता है

भारत में आईआईटी कॉलेज :- 

  • भारत में आईआईटी कॉलेज की संख्या 23 है इन कॉलेज के अंतर्गत 16053 सीटें मौजूद हैं
  • इन प्रौद्योगिकी संस्थान से निकले हुए इंजीनियर भारत में ही नहीं अपितु दुनियाभर के कई अन्य देशों में अपना और अपने देश का नाम रोशन कर रहे हैं
  • भारत के इंजीनियरों की पैकेज की बात करें तो करोड़ों में पहुंच जाता है
  • भारत में 23 महत्वपूर्ण राष्ट्रीय इंजीनियरिंग कॉलेज का लिस्ट दिया गया है
  • जेईई मेंस और एडवांस्ड क्वालीफाई करते हैं तो आप काउंसिलिंग के लिए निम्नलिखित कॉलेज में से चुनाव कर सकते हैं –
  1. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान खड़कपुर
  2. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मुंबई
  3. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान कानपुर
  4. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास
  5. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान दिल्ली
  6. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान गुवाहाटी
  7. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुड़की
  8. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रोपड़
  9. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान भुवनेश्वर
  10. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान गांधीनगर
  11. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान हैदराबाद
  12. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान जोधपुर
  13. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान पटना
  14. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान इंदौर
  15. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मंडी
  16. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान वाराणसी
  17. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान पलक्कड़
  18. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान तिरुपति
  19. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान धनबाद
  20. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान भिलाई
  21. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान गोवा
  22. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान जम्मू
  23. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान धरवाड़

भारत का पहला इंजीनियरिंग कॉलेज ब्रिटिश शासक लाड डलहौजी के द्वारा 1847 ईस्वी में बनाया गया था जिसको रुड़की कॉलेज के नाम से जाना जाता था

परंतु सन 2001 ईस्वी में नाम बदलकर भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुड़की कर दिया गया है।

IIT Full Form, IIT Course Details-कोर्स ड्यूरेशन, फीस, योग्यता पूरी जानकारी हिंदी में
IIT Full Form, IIT Course Details

ये भी पढ़ें :- ITI Course Details

आईआईटी कोर्स समय (IIT Course Duration)

  • आईआईटी कोर्स की डिग्री स्नातक स्तर की होती है
  • IIT इंजीनियरिंग कोर्स कंप्लीट करने के लिए 4 वर्ष का समय लगता है
  • जिसके लिए आपको मेंस एग्जाम और एडवांस एग्जाम क्वालीफाई करते हैं तो आपको सरकारी कॉलेज में दाखिला मिल जाता है
  • इससे अभ्यर्थियों को बेनिफिट्स यह होता है कि सरकार द्वारा स्कॉलरशिप प्रदान की जाती है और अभ्यर्थी प्राइवेट कॉलेज की तुलना में कम पैसे में इंजीनियर बनते हैं

आईआईटी कोर्स फीस(IIT Course Fee)

(आईआईटी की फीस कितनी है या गरीब छात्रों के लिए आईआईटी की फीस  )

  • 4 साल का इंजीनियरिंग कोर्स कंप्लीट करने के लिए 8 से 10 लख रुपए का खर्चा आ जाता है
  • यदि आप एससी, एसटी ओबीसी केटेगरी से बिलॉन्ग करते हैं तो यह मानकर चलना चाहिए कि दो से चार लाख के आसपास इंजीनियरिंग कंप्लीट होती है।
  • अर्थिक रूप से कमज़ोर अभ्यर्थी एंट्रेंस एग्जाम पास होते हैं मेरिट लिस्ट में नाम आता है तो आपको कॉलेज की फीस में वरीयता मिल जाती है।
  • हालांकि फीस फर्स्ट ऑल ऑफ भरना होता है जो स्कॉलरशिप के रूप में वापस आता है परंतु आपको रहने का और व्यक्तिगत खर्च का स्वयं पूरा व्यवस्था करना होता है।

 

  1. यह भी पढ़े :- होटल मैनेजमेंट कोर्स क्या है 
  2. यह भी पढ़े :- MBA Course Details
  3. यह भी पढ़े :-आईटीआई क्या है
  4. यह भी पढ़े :- IIT क्या है विस्तृत जानकारी के लिए क्लिक करें 
  5. यह भी पढ़े :- Wikipedia Link

Leave a Comment