Planets Name In Hindi, ग्रहों के नाम हिन्दी और अंग्रेजी में सम्बंधित तथ्य

सूर्य एक तारा है इसके चारों तरफ परिक्रमा करने वाले खगोलीय पिंड को ग्रह कहते हैं Planets Name In Hindi, ग्रहों के नाम हिन्दी और अंग्रेजी में, सम्बंधित तथ्य के विषय में चर्चा करेंगे और दोस्तों यदि आप प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो आपके लिए महत्वपूर्ण तथ्यों को समाहित किया गया है हालांकि आपको अपने सौर परिवार के बारे में बेसिक जानकारी होनी चाहिए जो आज इस पोस्ट के माध्यम से आप लोगों को तक साझा करेंगे |

Planets Name In Hindi, ग्रहों के नाम हिन्दी और अंग्रेजी में सम्बंधित तथ्य
Planets Name In Hindi, ग्रहों के नाम हिन्दी और अंग्रेजी में सम्बंधित तथ्य

वर्तमान समय में ज्योतिष विद्या में विश्वास रखने वाले व्यक्तियों को ग्रहों के बारे में बेसिक जानकारी होना चाहिए जिससे कि उनके सांसारिक जीवन में सुख, शांति, समृद्धि और संपन्नता बनी रहे तो दोस्तों पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें |

Planets Name In Hindi : ( ग्रहों के नाम )

सौर परिवार के विषय में जानने के लिए इससे पहले कुछ बेसिक तथ्यों को क्लियर कर लेना चाहिए जैसे ब्रह्मांड का वैज्ञानिक अध्ययन ब्रह्मांड विज्ञान अर्थात कॉस्मोलॉजी (Cosmology) कहलाता है |

ब्रह्मांड में तारों, आकाशगंगाओ, ग्रह, उपग्रह, उल्का, पिंडों आदि को सम्मिलित किया जाता है ब्रह्मांड का ना तो कोई केंद्र है और ना ही कोई आरंभिक किनारा क्योंकि आइंस्टीन के सापेक्षता के विशिष्ट सिद्धांत के अनुसार समस्त स्थान एवं समय गुरुत्वा के कारण एक अंतहीन चक्र के रूप में आबद्ध है |

सौरमंडल 

  • सौरमंडल में एक केंद्रीय सूर्य और अन्य ग्रह जो उनके चारों ओर परिक्रमा करते हैं सूर्य का परिवार सौरमंडल कहलाता है सौरमंडल में 8 ग्रह, और उपग्रह क्षुद्र, ग्रह, धूमकेतु आदि से मिलकर बना है सौरमंडल का लगभग 99.99% द्रव्यमान में सूर्य में है |
  • सौरमंडल मंदाकिनी के केंद्र से लगभग 30,000 से लेकर 33,000 प्रकाश वर्ष की दूरी पर एक कोने में स्थित है |

सूर्य (Sun)

  • सूर्य एक गोलाकार कच्छ में 250 किलोमीटर प्रति सेकंड की औसत चाल से मंदाकिनी के केंद्र के चारों ओर परिक्रमा करता है इस गति से केंद्र के चारों ओर एक चक्कर पूरा करने में सूर्य को 25 करोड़ वर्ष लगते हैं यह अवधि ब्रह्मांड वर्ष (Cosmos year) कहलाती है |
  • आधुनिक अनुमान के अनुसार मंदाकिनी के केंद्र से सूर्य की दूरी 32,000 प्रकाश वर्ष है
  • सूर्य पृथ्वी से 109 गुना बड़ा तथा 3.33 लाख गुना भारी है
  • सूर्य की आयु 5 अरब वर्ष है और यह पृथ्वी से 15 करोड़ किलोमीटर दूरी पर है
  • जिसका प्रकाश पृथ्वी पर 8 मिनट 20 सेकंड में पहुंचता है
  • सूर्य एक गैसीय गोला है जिसके अंतर्गत सूर्य के रासायनिक संगठन में 71% हिस्सा हाइड्रोजन 26.5% हीलियम तथा 2.5% लिथियम व यूरेनियम जैसे भारी तत्व है नाभिकीय संलयन द्वारा हाइड्रोजन का हीलियम में रूपांतरण होता है यह प्रक्रिया ही सूर्य की ऊर्जा का स्रोत है |

ग्रह के नाम (Planets Name ) :-

सूर्य से निकले हुए पिंड जो सूर्य की परिक्रमा करते हैं तथा सूर्य से ही ऊष्मा व प्रकाश प्राप्त करते हैं ग्रह कहलाते हैं ग्रह में गुरुत्वाकर्षण शक्ति होती है और ग्रहों की परिक्रमा कक्ष निश्चित होती है |

ग्रहों को दो वर्गों में बटकर अध्ययन किया जाता है 

(क) पार्थिव ग्रह या आंतरिक ग्रह :-

  1. बुद्ध
  2. शुक्र
  3. पृथ्वी
  4. मंगल

(ख) जोवियन या बाह्य ग्रह :-

  1. बृहस्पति
  2. शनि
  3. अरुण
  4. वरुण
पार्थिव ग्रह/आंतरिक ग्रह जोवियन/बाह्य ग्रह
1. बुद्ध 1. बृहस्पति
2. शुक्र 2. शनि
3. पृथ्वी 3. अरुण
4. मंगल 4. वरुण
 
यम ( Pluto ) :-

अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय संघ IAU के प्राग चेकोस्लावाकिया सम्मेलन 2006 में प्लेटो को सौरमंडल से बाहर का ग्रह माना गया इसमें ग्रह के लिए नई परिभाषा दी गई जिसमें यह कहा गया कि वह आकाशीय पिंड ही सौरमंडल के गृह माने जाएंगे जो अपनी निश्चित कक्षा में सौर की परिक्रमा करते हैं तथा अन्य ग्रहों की कक्षा का परिक्रमण नहीं करते यूरेनस की कक्षा का अतिक्रमण करने के कारण नई परिभाषा के आधार पर प्लूटो को सौरमंडल के ग्रहों से बाहर किया गया  सन २००६ से पहले नौ ग्रहों का नाम (9 Planets Name) उलेखनीय था 

ये भी पढ़ें :- ओजोन परत क्या है

Planets Name In Hindi, ग्रहों के नाम हिन्दी और अंग्रेजी में सम्बंधित तथ्य
Planets Name In Hindi, ग्रहों के नाम हिन्दी और अंग्रेजी में सम्बंधित तथ्य

बुद्ध (Mercury)

  • बुद्ध सौरमंडल में सूर्य का निकटतम ग्रह है सूर्य के करीब होने के कारण यह सूर्य की परिक्रमा सबसे कम समय में पूर्ण करता है
  • आकार की दृष्टि से यह सबसे छोटा ग्रह है जिसका कोई उपग्रह नहीं है
  • इसका कोई वायुमंडल नहीं है इसलिए इसका तापांतर अधिक पाया जाता है दिन में सट्टा का तापमान 467 डिग्री सेल्सियस तथा रात में 180 डिग्री सेल्सियस रहता है |

शुक्र (Venus)

  1. शुक्र का आकार लगभग पृथ्वी के समान है इसलिए इस पृथ्वी की बहन ग्रह सिस्टर प्लेनेट कहते हैं
  2. यह पृथ्वी के सबसे निकट ग्रह है जिसका कोई उपग्रह नहीं है |
  3. इसे भोर का तारा या संध्या का तारा या साँझ का तारा भी कहते हैं क्योंकि सुबह के समय यह पूर्व दिशा में दिखाई देता है और शाम के समय पश्चिम दिशा में दिखाई देता है |
  4. यह सर्वाधिक गर्म ग्रह है 480 डिग्री सेल्सियस तथा सौर ऊर्जा का सर्वाधिक प्रवर्तन करने के कारण यह सबसे चमकीला ग्रह कहलाता है |
  5. इसका परिक्रमण पूर्व से पश्चिम दिशा में होती है
  6. इसका सर्वोच्च बिंदु मैक्सवेल है जो बीटा माउंटेन पर स्थित है |

पृथ्वी (Earth)

  •  पृथ्वी सूर्य का तीसरा निकटतम ग्रह है आंतरिक ग्रहों में या सबसे बड़ा ग्रह है |
  •  पृथ्वी सौरमंडल का एकमात्र ग्रह है जिस पर जीवन पाया जाता है |
  •  जल की उपस्थिति के कारण इसे नीला ग्रह भी कहा जाता है |
  •  पृथ्वी का अक्षीय झुकाव 23.5°तथा कछिये झुकाव 66.5° है
  •  सूर्य के बाद पृथ्वी से निकटतम तारा प्रॉक्सिमा सेंचुरी है (4.5 प्रकाश वर्ष)
  •  इसका एक महत्वपूर्ण उपग्रह चंद्रमा है
Planets Name In Hindi, ग्रहों के नाम हिन्दी और अंग्रेजी में सम्बंधित तथ्य
Planets Name In Hindi, ग्रहों के नाम हिन्दी और अंग्रेजी में सम्बंधित तथ्य

मंगल (Mars)

  1. मंगल को लाल ग्रह रेड प्लैनेट कहते हैं क्योंकि इसकी सतह पर लोग-ऑक्साइड पाया जाता है जिससे मंगल ग्रह का रंग लाल है
  2. मंगल ग्रह के दो ध्रुव हैं और वहां भी पृथ्वी की तरह ऋतु परिवर्तन होती है ऐसा पृथ्वी की तरह अपनी धुरी पर झुकी होने के कारण होता है
  3. मंगल के दो उपग्रह हैं फोबोस एवम् डेमोंस
  4. मंगल ग्रह पर निक्स ओलंपिया एक पर्वत है जो माउंट एवरेस्ट से तीन गुना ऊंचा है
  5. ओलंपिया पर ओलिप्स मासी ज्वालामुखी है जो सौरमंडल का सबसे बड़ा ज्वालामुखी है 

बृहस्पति (Jupiter)

  • आकार की दृष्टि से यह सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह है
  • यह गैसों से निर्मित ग्रह है और इसके वायुमंडल में मुख्यतया हाइड्रोजन एवं हीलियम पाई जाती है |
  • बृहस्पति से रेडियो तरंगे प्रसारित होती हैं |
  • बृहस्पति ग्रह के 63 उपग्रह है गैनीमउड सबसे बड़ा उपग्रह है
  • इस ग्रह पर एक विशाल गड्ढा है जिसमें आग की लपटे निकलती रहती हैं जिससे यह विशाल लाल धब्बा जैसा दिखाई देता है

शानि (Saturn)

  1. यह सौरमंडल का दूसरा सबसे बड़ा ग्रह है
  2. इसके चारों ओर वलय (Rings) रिंग पाए जाते हैं जिनकी संख्या 10 है
  3. शनि के 62 उपग्रह हैं जिनमें टाइटन सबसे बड़ा उपग्रह है
  4. शनि तीव्र गति से घूमने के कारण सौरमंडल का सबसे चपटा ग्रह है
  5. यह आकाश में पीले तारे की तरह नजर आता है |

Planets Name In Hindi, ग्रहों के नाम हिन्दी और अंग्रेजी में सम्बंधित तथ्य

अरुण (Uranus)

  1. अरुण ग्रह पर मीथेन गैस की अधिकता है जिसके कारण यह हरा रंग का दिखाई देता है
  2. यह पूर्व से पश्चिम दिशा में घूमता है इसके यहां सूर्योदय पश्चिम में तथा सूर्यास्त पूर्व में होता है |
  3. अरुण के चारों ओर छल्ले पाए जाते हैं जिनमें प्रमुख है अल्फा,बीटा, गामा, डेल्टा वा इप्सिलाॅन
  4. अरुण अपनी धुरी पर सूर्य की ओर अधिक झुकाव के कारण लेटा हुआ प्रतीत होता है
  5. इसलिए इसे लेटा हुआ ग्रह भी कहा जाता है
  6. टाइटेनियम अरुण का सबसे बड़ा उपग्रह है

वरुण (Neptune)

  1. सूर्य से अधिक दूरी पर स्थित होने के कारण वरुण सबसे ठंडा ग्रह है |
  2. इसके 13 उपग्रह हैं इसका उपग्रह टाइटन चंद्रमा से बड़ा है
  3. वरुण का सबसे छोटा उपग्रह नेय्याद है
  4. वरुण ग्रह का रंग हल्का पीला है |